Demat account kya hai

Demat account kya hai ? 2021


Demat account kya hai


Demat account kya hai ?


नमस्कार, दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम आपको बताने वाले हैं कि डीमैट अकाउंट क्या होता है दोस्तों ऐसे बहुत सारे लोग हैं जिन्हें डीमेट अकाउंट के बारे में जानकारी होती है लेकिन आप में से ही ऐसे भी लोग हैं जिन्हें डीमेट अकाउंट के बारे में कोई भी जानकारी नहीं होती है। और उन्हें यह भी नहीं पता होता कि डिमैट अकाउंट क्या होता है अगर आप भी उन्हीं लोगों में से एक हैं आप को भी डिमैट अकाउंट क्या होता है तथा डिमैट अकाउंट कैसे बनाएं इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है तो आप बहुत ही आसानी से डिमैट अकाउंट खोल सकते हैं।


लेकिन आपको इस जानकारी को अंत तक फॉलो करना होगा अगर आप हमारी इस जानकारी को बीच में ही छोड़ देंगे है तो आप डीमेट अकाउंट के बारे में नहीं जान पाएंगे। और ना ही आप डिमैट अकाउंट को खोल पाएंगे अगर वास्तव में आप डिमैट अकाउंट के बारे में जानना चाहते हैं तो आपको इस जानकारी को लास्ट तक फॉलो करना होगा। यहां पर हम आपको भरोसा दिलाते हैं कि आप बहुत ही आसानी से डिमैट अकाउंट खोल पाएंगे।


डीमैट अकाउंट क्या है ?


दोस्तों हम आपको बता दें कि डीमेट अकाउंट जो होता है वह बिल्कुल बैंक अकाउंट की तरह ही होता है जिस प्रकार हम बैंक के द्वारा पैसों का लेनदेन करते हैं। और पैसों का रखरखाव करते हैं उसी प्रकार हमें डीमेट अकाउंट के द्वारा शेयरों तथा अन्य सिक्योरिटीज को रखते हैं। और वहां से हम शेयरों का लेन देन करते हैं शायद अब आपके समझ में आ गया होगा जिस प्रकार हम बैंक अकाउंट के द्वारा पैसों का लेनदेन करते हैं उसी प्रकार हम डीमेट अकाउंट के द्वारा शेयरों का लेनदेन करते हैं।


डीमैट का मतलब क्या होता है ?


डीमैट का मतलब हम आपको सीधी भाषा में समझाते हैं डीमैट का अर्थ (बिना किसी कागज के दस्तावेज का होना) शायद अब आप समझ गए होंगे और डीमेट को हम इंग्लिश में de - materiaalize कहते है। आज के समय में शेयरों का लेनदेन करने के लिए सबसे ज्यादा डिमैट अकाउंट का इस्तेमाल किया जाता है। और पहले के समय में जब किसी शेयर का लेनदेन या खरीदारी की जाती थी तो इसके लिए किसी कागज के दस्तावेज को लिया जाता था। और कागज के दस्तावेज के अनुसार पता चलता था कि यह शेयर किसका है और कौन इसका मालिक है। यह सब जानकारी पहले कागजों के माध्यम से पता चलती थी लेकिन अब ऐसा नहीं है आप डीमेट अकाउंट के द्वारा भी शेयर के बारे में जान सकते हैं। आपको इतना तो पता ही है दोस्तों आजकल हर एक काम डिजिटल हो चुका है।


दोस्तों पहले के युग में जब शेयर से संबंधित कोई भी दस्तावेज होता था तो वह बहुत ही ज्यादा संभाल कर रखना पड़ता था क्योंकि उससे संबंधित दस्तावेज कोई भी चुरा सकता था। और उसे खराब होने का भी बहुत डर रहता था तो दोस्तों इसी वजह से पहले के व्यक्तियों को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ता था। लेकिन अब ऐसा नहीं है अब हर एक काम ऑनलाइन हो चुका है और हम अपने कागजों को ऑनलाइन संभाल कर रख सकते हैं। और अब शेयर बाजार का सारा काम ऑनलाइन हो चुका है जब सारा काम ऑनलाइन होने का फैसला हो गया था तो शेयरों की पेपरलेस करने का फैसला किया गया। अब सारे शेयरों को हम अपने डीमैट अकाउंट में देख सकते हैं।


जब से शेयरों का काम डिजिटल चालू होने लगा है तब से हर एक व्यक्ति को शेयरों में लाभ हुआ है अब दोस्तों आप सोच रहे होंगे कि किस प्रकार का लाभ हुआ है। तो हम आपको बता दें अब किसी भी व्यक्ति को अपने कागजों को संभाल कर नहीं रखना पड़ता है और ना ही कही पर दफ्तरों के चक्कर काटने पड़ते हैं। जैसे ही वह व्यक्ति शेयर खरीदता है तो उसके 2 दिन बाद डीमैट अकाउंट में उसके शेयर दिखाई देने लग जाते हैं। और वह डीमेट अकाउंट के माध्यम से बहुत ही आसानी से किसी भी शेयर को किसी भी टाइम बेच सकता है। इसके लिए अब उसे किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है।


डीमैट अकाउंट खुलवाने से पहले।


अगर आप शेयर लिए डिमैट अकाउंट खुलवाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको सबसे पहले शेयर मार्केट में निवेश करने से पहले आपको शेयर बाजार के बारे में बहुत सारी जानकारी जान लेनी है। अगर आपको शेयर के बारे में जानकारी नहीं होती है तो आप शेयर मार्केट में निवेश नहीं कर पाएंगे इसलिए आपको शेयर के लिए जानकारी जानना बहुत आवश्यक है।


डीमैट अकाउंट क्या है ?


दोस्तों जब आप डिमैट अकाउंट को खुलवाने जाते हैं तो आपके बैंक के अकाउंट को डिमैट अकाउंट से जोड़ दिया जाता है। क्योंकि जब आप किसी भी डीमैट एकाउंट के द्वारा किसी भी शेयर को खरीदते हैं तो आपके शेयर के पैसे डायरेक्ट बैंक के अकाउंट से काट लिए जाते हैं। और जब आप शेयर को खरीद लेते हैं तो आपका शेयर डिमैट अकाउंट में सुरक्षित रख दिया जाता है और आप उसे कभी भी ओपन करके देख सकते हैं।


दोस्तों आप में से ऐसे बहुत सारे लोग हैं जिनके मन में अभी तक यह सवालों चल रहा है कि अगर हमारा डिमैट अकाउंट बैंक अकाउंट से जोड़ दिया जाएगा। तो शायद शेयर मार्केट में हमारे अकाउंट से पैसे काट लिए जाते हैं तो दोस्तों हम आपको इसके बारे में नीचे जानकारी देने वाले हैं।


👉   paisa-nikal-app-kya-hai


दोस्तों अगर आपके मन में भी यही सवाल है तो हम आपको बता दें ऐसा कुछ नहीं होता है आपका बैंक अकाउंट से आपका डीमेट अकाउंट जोड़ तो दिया जाता है। लेकिन डिमैट अकाउंट से आपका बैंक अकाउंट का कोई भी रिश्ता नहीं होता है। यह केवल इसलिए जोड़ा जाता है ताकि आपके डीमेट अकाउंट से शेयर खरीदने और बेचने के लिए पैसों का लेनदेन हो सके।


निष्कर्ष–


दोस्तों हमने आपको ऊपर की जानकारी में डीमेट अकाउंट के बारे में बताया है हमने आपको यहां बताया है कि डिमैट अकाउंट क्या होता है। तथा आप डीमैट अकाउंट में शेयरों को किस प्रकार से सुरक्षित रख सकते हैं और इसमें आपको अगर अपना बैंक अकाउंट जोड़ते हैं। तो इससे आपको क्या लाभ तथा क्या हानि होती है यह सब जानकारी हमने आपको इस पोस्ट में दी है अगर आपको यह पसंद आती है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले।

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.

और नया पुराने