Apple के iPhone महंगे क्यों होते हैं? 2021 Apple ka mobile itna mahnga kyu hota hai ?

दोस्तों अगर आपको यह पता नहीं है कि एप्पल कहां की कंपनी है तो आपकी जानकारी के लिए बता देते हैं कि एप्पल एक अमेरिकन कंपनी है और जिन लोगों को इसके बारे में पता है तो यह तो बहुत ही अच्छी बात है। दोस्तों प्रत्येक वर्ष यह कंपनी अपना नया मोबाइल मार्केट में सेल करने के लिए लाती है लेकिन उसकी कीमत सबसे अधिक होती है तो आपके मन में कभी ना कभी यह सवाल जरूर आया होगा कि आई फोन की मोबाइल फोन इतने महंगे क्यों होते हैं।


ऐसे कौन कौन से कारण है जोकि एंड्राइड के मुकाबले आईफोन इतने महंगे होते है। तो दोस्तों इन सारे सवालों का जवाब ले कर के हम आज किस पोस्ट में हाजिर हुए तो अगर आप भी जानना चाहते हैं एप्पल की आईफोन इतने महंगे क्यों होते है तो हमारे साथ शुरू से लेकर एंड तक हमारे साथ बने रहिए और जानकारी प्राप्त करते रहिए।


दोस्तों एंड्राइड मोबाइल के मुकाबले आईफोन दुगुनी कीमत में आते हैं आईफोन महंगे होने के यहां पर कई सारे कारण है परंतु दोस्तों बहुत सारी लिमिटेशंस भी होती है परंतु उन सारे लिमिटेशंस फॉर एंड्राइड में कर सकते हैं आईफोन में नहीं कर सकते तो चलिए दोस्तों टॉपिक को आगे बढ़ाते हैं और हम आपको बताते हैं कि आई फ़ोन क्यों होते हैं।


दोस्तों iPhone Apple company द्वारा बनाई जाती हैं और एप्पल एक अमेरिकन कंपनी है और जिसको 44 वर्ष पहले 1976 में शुरू किया गया था दोस्तों पहले एप्पल कंपनी कंप्यूटर का काम करती थी परंतु धीरे-धीरे इसमें तरक्की करना स्टार्ट कर दिया स्मार्टफोन बनाने लगी। 


दोस्तों स्टीव जॉब्स और आने दो व्यक्तियों ने मिलकर एप्पल कंपनी की स्थापना की थी और आज के समय में यह भारत में सबसे अधिक महंगी मोबाइल एप्पल के ही पाए जाते हैं 


दोस्तों एप्पल कंपनी की आईफोन पूरे संसार में विकी जाते हैं जिसमें से 510 रिलेटेड शॉप भी शामिल है और इस कंपनी में 1 लाख 37 हजार लोग काम करते हैं।


iPhone महंगे क्यों होते हैं?

1. Security And Privacy


तो दोस्तों आईफोन के महंगे होने का सबसे मुख्य कारण है कि आई फोन में उसकी सिक्योरिटी बहुत अधिक होती है होती है और आईफोन को बहुत ही आसानी से हैक करना इतना आसान नहीं होता है और अधिकतर लो एंड्राइड को रूट करके उसमें छेड़छाड़ कर देते हैं परंतु आईफोन में यह करना इतनी आसान बात नहीं है।


दोस्तों अधिकतर लोग अपनी प्राइवेसी को हाइड करके रखना चाहते हैं उनके लिए एक पल एक सबसे महत्वपूर्ण साधन है क्योंकि एक पल को हैक करना इतना आसान नहीं होता है जितना कि एंड्राइड को करना आसान बात होती है।


दोस्तों iPhone में iOS नाम की एक अलग प्रकार की ऑपरेटिंग सिस्टम होती है जो भी आईफोन को शेर और फास्ट बनाती है औराई फोन एंड्राइड के मुकाबले बहुत फास्ट काम करते हैं परंतु एंड्राइड सिस्टम गूगल के द्वारा बनाई गई है और यह एक open-source होने की वजह से उसे अन्य कंपनियां इस्तेमाल कर सकती हैं जैसे कि एमआई, विवो, ओप्पो, एंड्राइड का इस्तेमाल करती है परंतु एप्पल में उसका स्वयं का है ऑपरेटिंग सिस्टम है जो कि केवल आईफोन में है एप्पल के लैपटॉप का इस्तेमाल किया जा सकता है


2. Processing Power And Operating System


दोस्तों और हम एंड्राइड और आईफोन की तुलना करें तो आई हो ना एंड्राइड से कई गुना फास्ट वर्कर है उनका सबसे मुख्य कारण उनकी ऑपरेटिंग सिस्टम और उनकी प्रोसेसर है। 


दोस्तों एंड्राइड के मुकाबले अगर आप वीडियो एडिटिंग के लिए आईफोन का इस्तेमाल करते हैं तो वीडियो एडिटिंग की रेंडरिंग फाइल तुरंत बनकर तैयार हो जाती है और उसके साथ ही आईफोन की प्रोसेसर Android के मुकाबले बहुत ज्यादा फास्ट वर्कर है और आईफोन में गेम खेलने में भी बहुत आनंद आता है


दोस्तों जो प्रोसेसर एंड्राइड इस्तेमाल किया जाता है वह थर्ड पार्टी का होता है लेकिन आईफोन उसके स्वयं का प्रोसेसर होता है जिस वजह से वह एंड्राइड के मुकाबले बहुत ज्यादा अच्छा काम करता है।


दोस्तों एंड्राइड जिसे ऑपरेटिंग सिस्टम कहते हैं जो कि गूगल के द्वारा बनाया गया है और जो ओपन सोर्स है और उसी प्रत्येक कोई मैन्युफैक्चर कंपनी इस्तेमाल कर सकती है परंतु आईफोन का कस्टम और स्वयं का लॉस है जो भी आपके मोबाइल को सेफ और फास्ट बनाने में सहायता करता है।


3. Display And Camera Quality


दोस्तों अगर आपने कभी भी आई फोन का उपयोग किया हुआ तो आपको एंड्रॉयड और आई फोन की डिस्प्ले में काफी अधिक अंतर देखने को मिला होगा।


दोस्तों आईफोन की सबसे बड़ी खासियत यह है कि उसमें डिस्प्ले और कैमरा क्वालिटी का सबसे विशेष समावेश है आपने कई बार देखा होगा कि आई फोन की कैमरा क्वालिटी एंडॉयड की मुकाबले काफी बेहतर होती है और उसके फोटो बहुत अच्छे आते हैं


क्योंकि दोस्तों जो एप्पल के मोबाइल फोन में कैमरा इस्तेमाल यह जाती है उनकी लेंस बहुत ही महंगी होती है जिस कारण उसे आने वाली फोटो बहुत ही अच्छी दिखती है और एंडॉयड के मुकाबले काफी बेहतरीन।


और दोस्तों इसके चलते हम एप्पल आईफोन के डिस्प्ले के बारे में चर्चा करें तो बहुत ही क्लियर और कम बिजल से वाली होती है इस कारण से उसकी डिस्प्ले एंड्रॉयड के मुकाबले काफी क्लियर दिखाई देती है।


दोस्तों अगर हम टाइम के बारे में चर्चा करें तो आजकल एंड्राइड की मोबाइल भी बहुत अच्छी डिस्प्ले में बनने लगे है जिनकी वजह से उनकी बिक्री में भी बहुत बढ़ोतरी होने लगी है।


4. Brand Value And Trust


दोस्तों और हम एंड्राइड मोबाइल फोन को आईफोन की तुलना करें तो आईफोन की ब्रांड वैल्यू बहुत ही अधिक होती है और प्रत्येक आईफोन कोई खरीदना चाहता है आईफोन के मेले होने की तीन रीजन है जो कि मैं आपको बता चुकी हूं परंतु दूसरी कंपनियों की मात्रा में आईफोन कंपनी ब्रांड वैल्यू विश्वास उसके लोगों को अधिक देखने को मिला है जिस कारण से आई फोन की कीमत बहुत अधिक देखने को मिलती है। 

हम तो दोस्तों रात के समय में लुगाई फोन को केवल दिखाने के लिए खरीदते हैं क्योंकि आईफोन की मोबाइल बहुत ज्यादा महंगी होती है जिस कारण से शोक करने के लिए आईफोन का अधिकतर उपयोग किया जाता है और उस कारण से आईफोन की ब्रांड वैल्यू में वृद्धि होती चली जा रही है और आईफोन दिन पर दिन महंगे होते जा रहे हैं।

दोस्तों आईफोन मोबाइल की कंपनी बहुत बड़ी कंपनी है और उसकी सुरक्षा और प्राइवेसी को हर कोई जानता है जिस कारण से लोग का आईफोन पर विश्वास बढ़ गया है और इसी कारण से कंपनी ने आईफोन की कीमत में भी कर दी है क्योंकि जिनको जरूरत है वह तो इस मोबाइल को अवश्य खरीदेंगे।


Conclusion:-


तो दोस्त उम्मीद करते हैं कि अब आपको जानकारी मिल गई होगी होगी कि एंड्राइड के मुकाबले आईफोन इतने महंगे क्यों होते हैं। हमने आपको 4 स्टेप्स बताइए इन के माध्यम से आपको समझाने का प्रयास किया हैकि आई फोन महंगी क्यों होते हैं उसके बाद भी आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते है। हम आपके सवाल का जवाब देने का पूरा प्रयास करेंगे और आपको हमारी आज की जानकारी पसंद आई है तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। धन्यवाद।

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.

और नया पुराने

खेती बाड़ी और सरकारी योजनाओ की जानकारी के लिए Telegram चैनल पर जुड़े